सिंगोड़ी पेंच नदी में डूबने से युवक की मौत

0
89

सिंगोड़ी पेंच नदी में डूबने से युवक की मौ
*तीसरे का फूल विसर्जन कार्यक्रम में आया था युवक हरनखेड़ी से*
सिंगोड़ी:-सिंगोडी नगर के समीप में स्थित पेंच नदी के पानी में डूबने से एक युवक की मौत हो गई।मृतक युवक अपने परिवार के साथ अपने रिश्तेदार के फूल विसर्जन करने तीसरे के कार्यक्रम में गया हुआ था।पेंच नदी के छोटे पुल में पैर फिसलने के कारण यह हादसा हुआ।सिंगोडी चौकी प्रभारी जितेंद्र यादव ने बताया कि मृतक का नाम रितेश चौरसिया पिता रामस्वरूप रिप्पू चौरसिया निवासी हरनाखेड़ी के है जो ग्राम सिंगोड़ी में अपने कुटुंब रिस्तेदार की खारी फूल को बिसर्जित करने के लिये पेंच नदी गये हुए थे कि उक्त मृतक रितेश अचानक नदी में नहाते समय पैर फिसल गया कुछ युवकों ने उसे डूबते हुए देख बचाने का प्रयास किया किंतु वह बच नही पाया जैसे तैसे रितेश को बाहर निकाल कर लाया गया तो उसे तुरंत ही सिंगोड़ी अस्पताल लाया गया जंहा उसे मृत घोषित कर दिया पुलिस को सूचना मिलते ही मर्ग कायम कर मृतक को पोस्टमार्टम के लिए अमरवाडा पहुचाया गया।

नगर सहित आसपास के 40 गांव के लोग सिंगोड़ी में निर्भर है लेकिन पीएम के लिए सिंगोड़ी से 18 कि.मी की दूरी तय कर अमरवाडा जाना पडता हैं।किसी भी प्रकार की दुर्घटना या अन्य कारणों से मौत होने पर परिजनो को पोस्टमार्टम के लिएअमरवाडा जाना पडता हैं।जिससे लोगों को बहुत दिक्कतों और परेशानियो का सामना करना पडता हैं ऐसा ही मामला सोमवार को देखने को मिला।शव को अमरवाडा ले जाने के लिए मृतक के परिजनो को एक घंटे तक गाड़ी के लिए परेशान होते रहे।
*खंडहर में तब्दील हो रहा है चीलघर*
ग्राम सिंगोड़ी सहित आसपास के अनेक ग्रामीण क्षेत्र के लोग सिंगोडी गांव पर निर्भर है लेकिन दुर्घटना या अन्य कारणों से मौत होने पर परिजनो को पोस्टमार्टम के लिए अमरवाडा ले जाना पडता हैं।क्योंकि प्राथमिक स्वास्थ केंद्र सिंगोडी में पीएम करने वाला कोई भी डाक्टर नही हैं ऐसे में नगर के बाय पास मार्ग पर चील घर खंडहर में तब्दील हो रहा है। जिसे साफ तौर पर जाहिर होता है कि चीलघर सिर्फ मात्र दिखावे के लिए बना हुआ है।इस चीलघर के अंदर कूडा व घास फूल के साथ गंदगी की भारी अम्बार लगा हुआ हैं जिसकी देखरेख करने बाला कोई नही हैं इस समस्या को लेकर ग्रामीणों ने कई बार शासन प्रशासन का ध्यानाकर्षण कराया है लेकिन आज तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है।यदि जल्द ही व्यवस्थाओ पर सुधार नही होता हैं तो इस ग्राम में एक बडा जन आंदोलन हो सकता है।

सिंगोड़ी पेंच नदी में डूबने से युवक की मौत

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here