छिन्दवाडा टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की बैठक संपन्न

0
146
city news chhindwara falmnhg

छिन्दवाडा कृषि विज्ञान केन्द्र चंदनगांव के सभाकक्ष में छिन्दवाडा टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की साधारण सभा की बैठक संपन्न हुई । राज्य शासन के नये निर्देशों के अनुरूप काउंसिल की साधारण सभा और कार्यकारिणी समिति का पुनर्गठन किया गया है । साधारण सभा में संरक्षक सदस्य के रूप में जिले के प्रभारी मंत्री अध्यक्ष और सांसद उपाध्यक्ष रहेंगे तथा जिले के सभी विधायक, अध्यक्ष जिला पंचायत और महापौर नगर निगम सदस्य के रूप में शामिल रहेंगे । इस सभा में पदेन सदस्य के रूप में कलेक्टर सदस्य/सचिव रहेंगे तथा पुलिस अधीक्षक, आयुक्त नगर निगम, वनसंरक्षक, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, क्षेत्रीय प्रबंधक म.प्र. राज्य पर्यटन विकास निगम, उप संचालक/सहायक संचालक, राज्य पुरातत्व विभाग, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी और जिला जनसंपर्क अधिकारी सदस्य के रूप में शामिल किये गये है । उन्होंने कार्यकारिणी समिति के पदाधिकारियों और सदस्यों की भी विस्तार से जानकारी दी । कलेक्टर श्री जैन ने बैठक में काउंसिल के उद्देश्यों के साथ ही विशेष पर्यटन अभियान के अंतर्गत जिले में आयोजित किये गये कार्यक्रमों और जिला स्तरीय प्रस्तावित कार्यक्रमों की भी जानकारी दी ।

उन्होंने बताया कि जिले के सौंसर के जाम सावली मंदिर से लेकर झिरपा, अनहोनी तक ऐसे पर्यटन स्थलों को चिन्हित किया गया है जो पर्यटकों के लिये आकर्षण का केन्द्र बनेंगे । पर्यटकों के लिये हस्तशिल्प और हस्तकला के उत्पादों साड़ी, शर्ट, कलात्मक वस्तुयें आदि एवं पातालकोट की रसोई के माध्यम से स्थानीय स्तर के विशेष व्यंजनों की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है। साथ ही पर्यटकों के ठहरने के लिये आकर्षक हट्स बनाये गये है और वन क्षेत्रों में सामान्य ट्रेकिंग के स्थल भी चिन्हित किये गये है । उन्होंने बताया कि पर्यटन को बड़ावा देने और प्रचार-प्रसार के लिये जिले के प्रमुख पर्यटन स्थलों के छायाचित्र खिचवायें गये है जिनके साधारण सभा में अनुमोदन के बाद उनके बड़े होर्डिंग्स बनाकर कलेक्टर कार्यालय के साथ ही अन्य कार्यालयों, विश्रामगृहों और ऐसे प्रमुख स्थलों पर लगाये जायेंगे जिन्हे पर्यटक आसानी से देख सकेंगे । उन्होंने बताया कि आगामी नवंबर माह के तृतीय सप्ताह में पातालकोट महोत्सव का आयोजन किया जायेगा । बैठक में जनप्रतिनिधियों द्वारा मोहगांव के अर्ध्दनारीश्वर मंदिर, राघादेवी की गुफा, देवगढ़ का किला आदि को भी पर्यटन क्षेत्र की सूची में शामिल करने के सुझाव दिये

http://www.citytime.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here