अनुसूचित जाति/जनजाति विद्युतीकरण योजना

0
111

छिन्दवाडा- राज्य शासन द्वारा अनुसूचित जाति/जनजाति विद्युतीकरण योजना नियम 2017 के अंतर्गत जिले के अनुसूचित जाति/जनजाति बाहुल्य क्षेत्र में विद्युतीकरण तथा अनुसूचित जाति/जनजाति वर्ग के कृषकों के खेतों में सिंचाई सुविधा के लिये विद्युत लाईन के विस्तार/पम्पों के ऊर्जीकरण का प्रावधान किया गया है । इस योजना के अंतर्गत जिले के पात्र हितग्राही एक से 15 सितंबर तक कलेक्ट्रेट परिसर के प्रथम तल के कक्ष क्रमांक-47 में स्थित सहायक आयुक्त आदिवासी विकास के कार्यालय में अपने आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं ।
सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्रीमती शिल्पा जैन ने बताया कि इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिये आवेदक/आवेदकगण अनुसूचित जाति/जनजाति वर्ग के होना चाहिये और आवेदक के नाम पर 10 हेक्टेयर से अधिक भूमि नहीं होना चाहिये । बस्तियों में विद्युतीकरण के लाभ के लिये बस्ती/क्षेत्र के अंतर्गत कुल जनसंख्या में अनुसूचित जाति वर्ग की न्यूनतम जनसंख्या 40 प्रतिशत और अनुसूचित जनजाति वर्ग की न्यूनतम जनसंख्या 50 प्रतिशत होना चाहिये । उन्होंने बताया कि पम्प ऊर्जीकरण योजना के लाभ के लिये आवेदकों की सूची छोटे से ब?े भूमिधारक के ब?ते क्रम में तैयार की जायेगी जिसका अनुमोदन शासन द्वारा गठित चयन समिति द्वारा किया जायेगा । इसी प्रकार विद्युतीकरण योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति/जनजाति की बस्ती की आबादी के घटते क्रम में सूची तैयार की जायेगी । यह सूची जिले के लिये प्राथमिकता सूची होगी जिसमें निर्धारित प्रतिशत से कम आबादी वाली बस्तियों को शामिल नही किया जायेगा । इन योजनाओं में संबंधित जनपद पंचायत में कार्यरत सहायक विस्तार अधिकारी द्वारा जारी पूर्व से सुविधा उपलब्ध नही होने का प्रमाण पत्र आवश्यक होगा ।

Preview link http://www.citytime.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here